ढुल्लू महतो को नहीं मिली कोर्ट से जमानत, राज्यसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार पर क्या होगा असर

0
6

झारखंड में राज्यसभा की दो सीटों के लिए होने वाले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक ढुल्लू महतो के मतदान करने पर संशय के बादल मंडराने लगे हैं. धनबाद की अदालत ने सोमवार (15 जून, 2020) को उन्हें औपबंधिक जमानत देने से इन्कार कर दिया. बाघमारा के विधायक को जमानत नहीं मिलना, भाजपा उम्मीदवार के लिए एक झटका माना जा रहा है.एक महिला नेता के यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद बाघमारा के दबंग भाजपा विधायक ढुल्लू महतो ने एसडीजेएम की अदालत में औपबंधिक जमानत के लिए याचिका दायर की थी. उनकी याचिका पर सुनवाई करते हुए एसडीजेएम शिखा अग्रवाल की अदालत ने सोमवार को में बाघमारा विधायक की याचिका को खारिज कर दिया.

कोर्ट ने यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद बाघमारा के विधायक को किसी भी तरह का राहत देने से मना कर दिया. अब विधायक को आगामी राज्यसभा चुनाव में मतदान में भाग लेने की अनुमति के लिए अलग से याचिका दायर करनी होगी. कोर्ट से अनुमति मिलने के बाद ही वह राज्यसभा चुनाव में अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर पायेंगे. एक महिला नेता ने ढुल्लू महतो के खिलाफ यौन शोषण का मुकदमा दर्ज कराया था. महिला नेता की शिकायत के आधार पर भाजपा विधायक के खिलाफ कतरास थाना में प्राथमिकी (कांड संख्या 178/2019) दर्ज की गयी थी. इसी मामले में विधायक फिलहाल जेल में बंद हैं. विधायक की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने बहुत हाथ-पांव मारे, लेकिन उन्हें गिरफ्तार नहीं कर पायी.

कतरास के विधायक ने पिछले दिनों खुद कोर्ट में सरेंडर किया. इसके बाद अदालत ने उन्हें जेल भेज दिया. विधायक के जेल जाने के बाद उनकी ओर से जमानत के लिए कई याचिकाएं कोर्ट में दाखिल की गयी हैं, लेकिन भाजपा नेता को कहीं से अब तक कोई राहत नहीं मिली है. कोर्ट के इस फैसले ने राज्यसभा चुनाव लड़ रहे भाजपा उम्मीदवार की भी चिंता बढ़ा दी है. ज्ञात हो कि 19 जून, 2020 को राज्यसभा चुनाव के लिए मतदान है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here