बकरा काटने के आरोप में दलित युवकों की पिटाई मामले की जांच शुरू, एसपी-एसडीपीओ पहुंचे पीड़ितों के गांव

0
206

गिरिडीह। मुफस्सिल थाना इलाके के घघरडीहा गांव में बकरा मारने के आरोप में दो दलितों को पेड़ से बांधने व पिटाई करने के मामले की जांच गिरिडीह पुलिस ने शुरू कर दी है. रविवार को गिरिडीह के एसपी अमित रेणु व एसडीपीओ कुमार गौरव घघरडीहा पहुंचे और पूरे मामले की छानबीन की. इस क्रम में पीड़ित परमानंद दास व शंकर दास से वे इनकेपरिजनों से, जिस टोला में पीड़ित रहता है वहां के लोगों से भी विस्तार से घटना की जानकारी ली. पीड़ित से पूछताछ के बाद एसपी व एसडीपीओ उस स्थान पर भी पहुंचे जहां पर पंचायत हुई थी. जिस पेड़ पर दोनों को बांधा गया था उस स्थान का भी मुआयना किया. यहां भी कई लोगों से पूछताछ की गयी. इस दौरान मुफस्सिल थाना प्रभारी सह पुलिस निरीक्षक रत्नेश मोहन ठाकुर भी मौजूद थे. यहां बता दें कि बकरा काटने के आरोप में 29 जुलाई को घघरडीहा गांव में पंचायत हुई थी. इस दौरान दो युवक परमानंद तथा शंकर को घर से निकाला गया था और पिटाई की गयी थी. वहीं मामले को लेकर पंचायत भी हुई थी जिस दौरान दोनों युवकों को पेड़ से बांध दिया गया था. इस घटना को लेकर शनिवार को दोनों युवकों के आवेदन पर मुफस्सिल थाना में एफआईआर दर्ज की गयी. इस एफआईआर में मुखिया बालेश्वर यादव समेत 18 लोगों को नामजद किया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here