सेंट्रल आईबी की जमीन पर अतिक्रमण, सीओ ने लिया जायजा

0
331

गिरिडीह। सदर प्रखंड अंतर्गत पपरवाटांड़ में बन रहे नए समाहरणालय भवन के समीप हुए अतिक्रमण की शिकायत पर बुधवार को अंचलाधिकारी रविन्द्र कुमार सिन्हा पहुंचे. यहां पर चेतावनी के बाद भी बने मकानों के मालिकों को उन्होंने अतिक्रमण हटाने का निर्देश दिया. सीओ के साथ थाना प्रभारी रत्नेश मोहन ठाकुर भी पपरवाटांड़ पहुंचे थे. थाना प्रभारी ने भी लोगों को चेतावनी दी. इधर परियोजना पदाधिकारी बिनोद कुमार ने कहा कि अतिक्रमणकारियों से प्रबंधन सख्ती से निपटेगा. मालूम हो कि पपरवाटांड़ में निर्माणाधीन समाहरणालय भवन के ठीक पीछे महेशलुंडी रोड में धड़ल्ले से अतिक्रमण किया गया है. हाल के एक माह में अंधाधुंध तरीके से कई कमरों का निर्माण किया गया हैं. इतना ही नहीं जिस जमीन का आवंटन सेंट्रल आईबी को किया गया है उसपर भी अतिक्रमण किया गया है. इसके अलावा जिस जमीन पर डीडीसी आवास बनना है उसपर भी अवैध निर्माण किया गया है. बताया जाता है कि महेशलुंडी इलाके के कई लोगों ने  जमीन पर कब्जा करके मकान बना लिया है. इसमें कतिपय सफेदपोश का भी संरक्षण प्राप्त है. सूत्र बताते हैं कि कई लोग रात के अँधेरे में तो कई लोग दिन के उजाले में अतिक्रमण करने का काम किया है. कुछेक लोग व्यवसायिक प्रतिष्ठान का भी संचालन कर रहे हैं.  कहा जा रहा है सीआइबी की जमीन पर कब्जा को लेकर केंद्रीय अधिकारी के भी तेवर तल्ख हैं. गिरिडीह के सीओ रविंद्र कुमार सिन्हा ने कहा कि भीजिलेन्स  विभाग से सुचना आयी है कि उनको महेशलुंडी मौजा में जो सरकार की औऱ से एक एकड़ जमीन आवंटित किया गया है, उसमे लोग अतिक्रमण कर रहे है. इसी सिलसिले में यहां पर जांच करने के लिये पहुंचे  हैं. मामला सत्य पाया गया है. उन्होंने बताया कि डीडीसी ऑफिस के लिए भी जो जमीन आवंटित है उसका भी अतिक्रमण किया गया है. उन्होंने कहा कि अतिक्रमणकारियों की सूचि बनाकर उनलोगों को नोटिस किया जाएगा। गैरकानूनी तरीके से बनाये गए मकानों को तोडा जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here